Home आयुर्वेदिक तुलसी के पत्ते किसी बरदान से कम नहीं: Tulsi Ke Fayde

तुलसी के पत्ते किसी बरदान से कम नहीं: Tulsi Ke Fayde

हिन्दू धर्म में तुलसी को मां लक्ष्मी का रूप मानकर घर के आंगन में सामने पूजनीय स्थान दिया जाता है। लेकिन तुलसी के वैज्ञानिक व आयुर्वेद की हिसाब से बहुत लाभ स्वास्थ्य मिलते हैं। आयुर्वेद में तुलसी को संजीवनी बूटी माना जाता है क्योंकि तुलसी (Tulsi Ke Fayde) के पौधे में ऐसे कई गुण होते हैं जो बहुत सी बीमारियों को दूर करने में मदद करते हैं। तुलसी का पौधा सिर्फ सेहत ही नहीं घर को भी बुरी नजर से बचाता है। तो आइए जानते हैं तुलसी के पौधे से जुड़ी कुछ जरुरी बातें। तुलसी के पत्ते  बुखार, प्लेग,फ्लू, जुखाम, जोड़ों का दर्द, मलेरिया, स्वाइन फ्लू, डेंगू, सर्दी, खांसी, मोटापा, ब्लड प्रेशर, शुगर, एलर्जी, पेट में कृमि, हेपेटाइटिस, जलन, यूरिन, गठिया, दम, मरोड़, बवासीर, आंख दर्द, खुजली, सिर दर्द, पायरिया, नकसीर, फेफड़ों की सूजन, अल्सर, वीर्य की कमी, हार्ट ब्लॉकेज इत्यादि  समस्याओं से एक साथ निजात दिलाने में सक्षम है।

तुलसी के फायदे- Tulsi Ke Fayde

मौसम में बदलाव होने कारण ज्यादातर लोगों की तबियत खराब हो जाती है। तुलसी सर्दी- जुखाम के लिए तो रामबाण का काम करती है। दवा लेने से बुखार तो कम हो जाता है लेकिन खांसी और कफ लंबे समय तक बना रहता है। ऐसे में तुलसी के घरेलु नुस्खे अपनाने से तुरंत आराम मिलता है।

किसमिस खाली पेट या भिगोकर खानेके हैरान कर देने

कैंसर से बचाव: Tulsi In Hindi

बहुत सारि रिसर्च में पाया गया की तुलसी के बीज को कैंसर के इलाज में भी कारगर बताया गया है। दरअसल तुलसी शरीर में एंटीऑक्सीडेंट गतिविधि को बढ़ा देता है और कैंसर ट्यूमर को फैलने से रोकता है। जो लोग नियमित रूप से तुलसी का सेवन करते हैं उन्हें कैंसर होने का डर न के बराबर होती है।

गुर्दे की पथरी :

तुलसी के सेवन से पेशाब की खुलकर आता है जिससे किडनी को साफ करने में भी मदद मिलती है। तुलसी किडनी को सही तरीकेसे काम करने में मदद करती है। अगर किडनी में स्टोन है तो तुलसी के ताजा रस को शहद में मिलाकर रोजाना 4 से 5 महीने तक सेवन करें। इससे पेशाब के रास्ते से किडनी का स्टोन भी निकल जायेगी।

पियाज खाने के फायदे

मुंह की बदबू  दूर करे :

मुंह की बदबू एक आम समस्या हैं ऐसेमे आप तुलसी का उपयोग कर सकते हैं जो काफी मददगार साबित होते हैं। अगर आपके मुंह से बदबू आ रही है तो तुलसी के कुछ पत्तों को पानी में उबाल लें और फिर उस पानी ठंडा करने के बाद उससे कुल्ला कर लें। ऐसा करने मुंह की बदबू  चली जाती है। ये एक तरह से नैचुरल माउथ फ्रेशनर का काम करते हैं।

बालों की समस्या :

आपको बाल झड़ना, सफेद होने पर तुलसी का रस को तेल में सही तरीकेसे मिलकर लगाए इससे काफी फ़ायदा होगा। वहीं जुएं य कीड़े होने पर रस की कुछ बूंदें नींबू के रस में मिलाकर लगाएं और कुछ घंटों के बाद धो लें। इससे काफी लाभ होगा।

पुदीना खाने के फायदे

वजन कम करे :

वजन घटाने के लिए भी तुलसी बेहद काम आता है। इसके नियमित सेवन से आपका मोटापा तो कम होगा ही, यह कोलेस्ट्रॉल को कम कर रक्त के थक्के जमने से रोकती है। इससे हार्ट अटैक की संभावना भी कम होती है।

लेकिन तुलसी पत्ते का कुछ नुकसान भी हैं आइये इसे भी जानते हैं की किन लोगोको यह नहीं इस्तेमाल नहीं करना चाहिए :

तुलसी की तासीर हल्की गर्म होती है इसीलिए सर्दियों में इसे खाने से शरीर में कोई नुकसान नहीं होता है लेकिन गर्मियों में इसके ज्यादा इस्तेमाल करने से परेशानी हो सकती है। वहीं जो लोग डायबिटीज़ या पइर हाइपोग्लाइसीमिया जैसे बीमारी की दवा ले रहे हैं उन्हें तुलसी का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे शरीर में ब्लड शुगर ज्यादा कम होने की डर हो सकती है। अगर आप दिन में रोजना 2 से ज्यादा बार तुलसी की चाय पीते हैं तो आपको सीने और पेट में जलन, एसिडिटी जैसी समस्या भी हो सकता है। अगर आप बीमार हैं और दवा ले रहे हैं तो इसके इस्तेमाल से पहले डॉक्टर की राय जरूर ले।

स्वास्थ सम्बन्धी अपडेट के लिए हमारे TELEGRAM और WHATSAPP ग्रुप को ज्वाइन करना भूले

नोट:- healthayurindia.com के इस आर्टिकल केवल सूचनात्मक उद्देश्यों के लिए लिखा गया है। कृपया इसके उपयोग से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here