Home आयुर्वेदिक Safed Musli Ke Fayde | सफेद मूसली खाने के फायदे व नुकसान

Safed Musli Ke Fayde | सफेद मूसली खाने के फायदे व नुकसान

Safed Musli Ke Fayde: सफ़ेद मूसली एक तरह के जड़ीबूटी होती हैं जिसका उपयोग कई तरह के आयुर्वेदिक दबाइयो मे क्या जाता हैं, इसके सेबन से बहुत साड़ी बीमारिया ठीक हो जाती है। सफ़ेद मूसली (Safed Musli Ke Fayde) के सबसे बड़ा फ़ायदा पुरषो को हैं जो की यह किसी भी तरह के योन सम्बन्धी समस्याओं से निजात दिलाता हैं। यह एक तरह एक पौधे होता हैं, इसमें छोटे आकर का सफ़ेद फुल होता हैं और इन फुलों का उपयोग ही दवा में क्या जाता हैं, इसमें काफी सारे पोषक तत्वा होते हैं जैसे प्रोटीन, कैल्सियम, काब्रोहिड्रेड, और काफी सारे विटामिन्स पाए जाते हैं। पुरुषोंके लिए सफेद मूसली का उपयोग बहुत ही लाभजनक माना जाता हैं और इनके नियमित इस्तेमाल से सब तरह की शारीरिक कमजोरी दूर होती हैं। आगे विस्तार से पढ़ें

सफ़ेद मूसली का उपयोग ज्यादातर शारीरिक क्षमता को बढ़ाने में क्या जाता हैं आयुर्वेद, यूनानी और होमियोपैथी में भी इसका इस्तेमाल क्या जाता हैं। अगर सफ़ेद मूसली (White Musli) के पाउडर को दूध में मिलकर सेबन क्या जाये तो एक महने के अंदर ही आपको फर्क देखने लगेगा।

सफेद मूसली के फायदे – Safed Musli Ke Fayde

सफ़ेद मूसली (Safed musli benefits for men in hindi) पुरुषोंके शीघ्रपतन के इलाजो में बहुत फायदेमंद मन जाता हैं कौंच के बीज, सफेद मूसली और अश्वगंधा के फायदे की बात करे तो तीनो को पाउडर बराबर मात्रा में मिलाकर खाने से शारीरिक कमजोरी दूर होती हैं। इस पाउडर को एक चम्मच सुबह साम दूध के साथ लेने से मरदाना कमजोरी, शीघ्रपतन और बीर्य की कमी जैसे समस्याएं दूर होती हैं, यह ना सिर्फ आपको स्ट्रांग बनाता हैं बल्कि पुरुषोंके बीर्य में स्पर्म काउंट को भी बढ़ाता हैं। यही नहीं कई रिसर्च के मुताबिक डायबेटीस के बाद होने वाले इनफर्टिलिटी के इलाज में भी सफ़ेद मूसली काफी असरदार होती हैं साथ ही पेशाब में जलन को कम करने में भी यह काम आता हैं।

safed-musli-benefits-in-hindi

बजन बढ़ाये

जिन लोगो का खाना शरीर में नहीं लगता वजन दिन ब दिन घटता जा रहा हैं उनके लिए सफ़ेद मूसली एक अच्छा ऑप्शन हैं इसे खाने से आसानीसे वजन बढ़ने लगता हैं और दुबले पतले शरीर ताकतबर बनता हैं एहि नहीं शरीर के मासपेशियोंके मजबूती के लिए भी सफ़ेद मूसली गुणकारी हैं इसके इस्तेमाल से मासपेशी कमजोर नहीं परती।

रोग प्रतिशोधक क्षमता बढ़ाये

सफ़ेद मूसली के फायदे (Safed musli benefits) रोग प्रतिशोधक समता के साथ भी हैं इसे खाने से रोग प्राधिरोधक समता बनी रहती हैं, रोग प्रतिरोधक क्षमता के मजबूत होने से शरीर के रक्षा कई तरह से होते हैं और अनगिनत संक्रमण शरीर से दूर रहती हैं इसीलिए जिन लोगो का प्रतिशोधक समता कमजोर हैं और जो लोग आसानीसे बदलते मौसम के कारन जल्द बीमार पड़ जाते हैं उनके लिए सफ़ेद मूसली बहुत कारगर हैं। रोज जरूर इसे एक ग्लास गर्म दूध के साथ खाये।

सफेद-मूसली-का-उपयोग

हड्डियोंको मजबूत बनाये

सफ़ेद मूसली के लगातार इस्तेमाल से हड्डिया मजबूत रहती हैं और इनके रक्षा अर्थरिटिस जैसी रोगो से होती हैं, जिन लोगो को जोड़ो के दर्द के समस्या रहती हैं। अगर वो सफ़ेद मूसली का सेबन करते हैं तो उनका जोड़ो के दर्द का समस्या दूर हो जाती हैं इसमें मौजूद कैल्सियम हड्डियोंको कमजोर पड़ने नहीं देता।

तनाब काम करे

आजके भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाब एक आम बात हैं जिसके कारन क्या बच्चे बूढ़े नौजवान डिप्रेसन का सीकर हो जाते हैं। और इसी तनाब के कारन अनिद्रा जैसे बीमारी हो जाता हैं इसमें सफ़ेद मूसली बहुत काम आ सकता हैं। रात को सोने से पहले दूध के साथ सफ़ेद मूसली खाने से तनाब दूर रहता हैं और नींद भी अच्छी आती हैं।

सफेद मूसली चूर्ण और कैप्सूल के फायदे: Patanjali Safed Musli Powder Price/Patanjali safed Musli capsules price And Benefits

बाजार में काफी सारे मेडिकल स्टोर और आयुर्वेदिक दवा दुकानो में पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण (Patanjali Safed musli) उपलब्ध हे लेकिन आप इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं जो की हर ऑनलाइन स्टोर पे यह उपलब्ध हैं। इसकी कीमत की बात करे तो यह ज्यादा महंगा नहीं हैं इसके 200 ग्राम के जार की कीमत आपको आसानीसे 250 से 300 रूपए में मिल जायेंगे।

अश्वगंधा, शतावरी और सफ़ेद मूसली कौंच के बीज के फायदे और नुकसान- Ashwagandha, Shatavari, Safed musli kaunch ke beej ke faide

अश्वगंधा शतावरी सफ़ेद मूसली कौंच का सेबन खून में एंटीओक्सीडैन्ट्स के लेबल को बढाता है। अश्वगंधा की तरह ही सफेद मूसली भी पुरुषोंमें योन इच्छा और शक्ति को बढ़ाता हैं। अगर आप योन सम्बन्धी कोई भी समस्या से जुज रहे हैं तो आप नियमित अश्वगंधा, शतावरी और सफ़ेद मूसली का सेवन करें। पुरुषोंमें प्रजनन क्षमता और शुक्राणु की बृद्धि भी करता हैं। लेकिन इसके कुछ नुकशान भी हैं जो आपको सेबन से पहले जरूर ध्यान रखना चाहिए। इसका अत्यधिक सेबन से गुर्दे में समस्या हो सकती हैं। यहाँ तक की पेट में दर्द और डायरिया भी हो सकता हैं। गर्भवती महिलाओं और छोटे बच्चों को इसका सेबन से दूर रहना चाहिए। इसीलिए इसका प्रयोग से पहले डॉक्टरों से सलाह जरूर ले।

सफ़ेद मूसली चूर्ण- Safed Musli Powder Ke Fayde

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के फायदे: सफ़ेद मूसली का सेबन चूर्ण यानि पाउडर के रूप में क्या जाता हैं वही आप खुद चाहे तो घर पर ही इसका चूर्ण बना सकते हैं, इसका पाउडर बनानेके लिए पहले आप इसे इच्छी तरह धुप में सूखा ले फिर मिक्सी ग्लैंडर में इसे पीस कर इसका पाउडर बना ले और किसी सीसे के बोतल में भरकर रख दे।

सफ़ेद मूसली मात्रा- Safed Musli Uses

सफेद मूसली 13 से 19 साल के बच्चो को 2 ग्राम से ज्यादा नहीं खाना चाहिए जबकि एक प्राप्त बयस्क ब्यक्ति एक दिन में 5 से 6 ग्राम इसका सेबन कर सकते हैं।

सफेद मूसली के नुकशान- Safed Musli Powder Side Effects

Safed musli ke nuksan: सफ़ेद मूसली के नुकशान भी हैं इसके इस्तेमाल से पहले सफेद मूसली खाने के तरीके को जरूर जान ले की इससे क्या नुकशान हो सकता हैं। इसका अधिक इस्तेमाल से पाचन क्रिया में समस्या हो सकता हैं, खासकर जिन लोगो का कब्ज की समस्या हैं वो लोग सफ़ेद मूसली न खाये क्यू की इसे खाने से कब्ज की समस्या और बढ़ सकती हैं। सफ़ेद मूसली में काफी मात्रा में फाइबर होने के कारन भूख मर जाती हैं। इसके ताहिर ठंडी होती हैं तो अधिक मात्रा में इसका इस्तेमाल से जुखाम भी हो सकता हैं जिन लोगो को बलगम की समस्या पहले से हैं वो लोग सफ़ेद मूसली का इस्तेमाल नहीं करे तो बेहतर हैं।

नोट:-healthayurindia.com के इस आर्टिकल केवल सूचनात्मक उद्देश्यों के लिए लिखा गया है। कृपया इसके उपयोग से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular