Home आयुर्वेदिक Amla ke fayde | आमला जूस और चूर्ण के फायदे | आमला...

Amla ke fayde | आमला जूस और चूर्ण के फायदे | आमला का उपयोग

आंवला के बहुत सारे फायदे हैं। आंवला एक दवा की तरह है जो कड़वी तो है, लेकिन काफी सारे बीमारियों से लड़ने में या फिर कहे ठीक करने मे बहुत फायदेमंद होती है। अमला रोग प्रतिशोधक क्षमता बढ़ाने, बुढ़ापा दूर करने जैसी बीमारियों को जड़ से खत्म करने में एक घरेलु और रामबाण इलाज हो सकता है। तो आज हम आपको आंवला के फायदे, आंवला के औषधीय गुण, आमला के उपयोग और आंवला चूर्ण खाने का तरीका (Amla Ke fayde) बताएँगे आमला चूर्ण के फायदे, अमला जूस के फायदे और आमला के उपयोग।

आंवला क्या है? Amla Ke fayde

सबसे पहले जानिए अमला क्या हैं? आंवला को आयुर्वेद में अमृतफल या धात्रीफल कहा गया है। प्राचीन कल से ही भारत में आंवला का प्रयोग एक घरेलु दबा के रूप में किया जाता आ रहा है।

आयुर्वेदिक के अनुसार, आंवला में काफी मात्रा में पौस्टिक तत्व होते हैं। आंवला के अनगिनत लाभ (Amla Benefits in Hindi) हैं ना सिर्फ आपके स्किन, बालों के लिए उपयोगी है, बल्कि कई तरह के रोगों से लड़ने में यह दबा के तरह काम करता है। आंवला वह औषधि है, जो पेट की समस्या, जैसे पाचन संबंधित रोगों के लिए सबसे ज्यादा आमला के उपयोग किया जाता है। कुछ राज्यों में इसे अमला के नाम से भी जाना जाता है।

आंवला के फायदे- Amla ke fayde

Amla Benefits: एक आंवले में एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल के गुण भरपूर मात्रा होने की वजह से अमला मुंह के छालों में सेवन करना फायदेमंद होता है। आंवले का कैंडी (Amla Candy), सब्जी की तरह या मुरब्बे के रूप में सेबन क्या जा सकता हैं।

अमला एंटीऑक्सीडेंट से हैं भरपूर

आंवलें में फैटी एसिड, विटामिन सी, एंटी बैक्टीरियल और एंटी ऑक्सीडेंट जैसे पोषक तत्व काफी मात्रा में पाया जाता हैं। खासकर बालो का समस्या जैसे बालों का झड़ना, रुसी (डैंड्रफ-रूसी के इलाज), बालो का सफ़ेद होना, रूसी जैसे गंभीर समस्या से राहत मिलती है और बाल काले, घने और लंबे बनते हैं तो अगर आप हमेशा अपने बाओलो को लम्बे, घने और काळा बनाये रखना चाहते हैं तो सूखे आंवले को भिगोकर इसका पेस्ट बना ले और अपने बालों में लगाएं।

अमला का उपयोग बालों के समस्या में

रूसी और बालों का झरना रोकने के लिए आंवले का सेवन करें जरूर करे। आंवले पाउडर गर्म दूध, में मिलाकर पिने से और आंवला-शहद को एक साथ सेवन करने से आंखों की रोशनी तेज होती हैं। इसके अलाबा आँखों की बीमारी जैसी मोतियाबिंद, रतौंधी में भी लाभ मिलता हैं।

आंवला में मौजूद पोषक तत्व शरीर के अतितिक्त कोलेस्ट्रोल को कम करने मे और खून की बहाब को सामान्य रखने में मदद करता है। डायबिटीज मिरोजो के लिए कच्चा आंवला खाना सबसे ज्यादा लाभकारी होता हैं। साथ ही अमला शरीर के ब्लड शुगर को भी बैलेंस करने का काम करता है।

amla-powder-and-juice-benefits-in-hindi
amla-powder-and-juice-benefits-in-hindi
Image Source: pixabay.com

आंवला खून साफ और शुद्ध बनाये रखने में मदत करता हैं। इसके साथ ही अमला बवासीर, रक्तपित्त, वात-पित्त, जॉन्डिस और एसिडिटी को ख़त्म करने में भी फायदेमंद होता है। यह सर्दी, खांसी और कफ होने से बचता हैं। आंवला दर्द निवारक दवा के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।

आंवला मुरब्बा के फायदे- Amla Murabba Ke fayde

बैसे तो अमला को बहुत तरीकोंसे खाया जा सकता हैं कई लोग इसे अचार (Amla ka achar) बनाकर तो कोई इसे आंवला मुरब्बा (Amla Murabba Ke fayde) बनाकर खाते हैं और कोई इसे जूस बनाकर के भी पीते हैं रोज सुबह अगर खली पेट अमला का जूस पिया जाये तो पाचन शक्ति बढ़ती हैं और पूरा दिन शरीर में एक ऊर्जा बनी रहती है। क्यू की इसमें विटामिन C और आयरन भरपूर मात्रा में होता हैं जिससे शरीर में एक अलग सी चमक होती हैं। पुदीना खाने के फायदे

अमला जूस के फायदे – Amla juice benefits in hindi

अमला का जूस भी हैं सेहत के लिए काफी उपयोगी, अमला का जूस रोजाना पिने से शरीर में मौजूद रक्त कोशिकायो को यह शक्तिशाली बनाता हैं और रक्त को भी यह साफ करता हैं। रोजाना एक 100ML अमला का जूस पिने से ना कि सर्दी जुखाम दूर होता हैं बल्कि यह शरीर के ुमेन सिस्टम को भी मजबूत करता हैं। जिन लोगो को कलेस्ट्रॉल की मात्रा ज्यादा हैं वो एक हप्ते तक आमले का जूस लेने से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम हो जाती हैं और इसके रोजाना सेबन से पाचन शक्ति भी तंदरुस्त होता हैं।

अमला के 10 अतिरिक्त फायदे-  Amla ke fayde

  • खून में हीमोग्लोबिन की कमी हो जाने पर, रोज आंवले के रस का सेवन बहुत लाभदायी होता है। यह शरीर में हीमोग्लोबिन कोशिकाओं के निर्माण करने में में सहायक होता है, और खून बढ़बमे मदत करता हैं।
  • आंखों के लिए आंवला किसी बरदान से कम नहीं, यह आंखों की रौशनी को बढ़ाने में मदत करता है। इसके लिए रोज आंवला चूर्ण (Amla churna) में एक चम्मच शुद्ध शहद साथ लेने से लाभ मिलता है और मोतियाबिंद जैसे समस्या भी जड़ से खत्म हो जाता हैं।
  • आंवले का रस या कच्चे आंवले का सेवन किसी भी तरह से खाने पर यह शरीर को ठंडक पोछता है। बच्चे हो यह औरत उल्टिया होने पर आंवले के रस को दिन में दो या तीन बार मिश्री के साथ सेवन करने से उलटी से काफी राहत मिलती हैं।
  • मधुमेह रोगी के लिए अमला एक रामबाण इलाज हैं। मधुमेह रोगी अगर आंवले के रस रोज सेवन करे तो इससे राहत मिलती है।
  • अमला स्मरण शक्ति को बढ़ाने में काफी फायदेमंद होता है। इसके लिए सुबह के समय खली पेट गाय के दूध के साथ आंवला के मुरब्बा सेबन करने से काफी फायदेमंद होता है,  इसके बदले आप रोज अमला जूस का भी सेबन कर सकते हैं।
  • तेज बुखार में आंवले के रस में छौंक लगाकर इसका सेवन करने से लाभ मिलता हैं, इसके अलावा दांतो का सड़ जाना, दांतों में दर्द में कपूर के साथ अमले का रस मसूड़ों पर लगाने से आराम मिलता है।
  • पथरी की इलाज में भी आंवला एक कारगर उपाय साबित हो सकता हैं। पथरी होने पर मूली के रस के साथ सूखा आमले का चूर्ण 40 दिन तक मिलाकर खाये इससे कुछ ही दिनों में पथरी शरीर से मल के रास्ते बाहर निकल जाएगी।
  • आमले के रस या पाउडर से बाल धोने पर या फिर इसका सेवन करने से बालों की समस्याओं से जल्द छुटकारा मिलता हैं। तो अपने बालो को घना, काला और चमकदार करने के लिए आंवले का प्रयोग जरूर करे।
  • गैस, खट्टी डकार और एसिडिटी होने पे आंवला का सेबन करने से फ़ायदा मिलता है। चीनी के साथ अमला का रस या पाउडर मिलाकर सरबत पिने से एसिडिटी से राहत मिलती है। इसके अलावा आंवले का जूस पीने से पेट की सारी गंभीर से गंभीर समस्याओं से राहत मिलती है।
  • चेहरे पर दाग-धब्बे हटाने और त्वचा को खिलाने में अमला का उपयोग बहुत फायदेमंद होता हैं। खासकर लड़कियो के चेहरे पे मुहासे, ब्लैक हेड्स, झुर्रिया हटाने और चेहरे को खूबसूरत बनाने में अमला काफी मदतगार होती हैं। अमला का पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगाने से स्किन साफ और नेचुरल ग्लोइंग होती है और कील मुहासे भी नहीं आते।

बालों की समस्या में आंवले के फायदे (Amla Benefits for Hair in Hindi)

सफेद बालों की समस्या को जड़ से ख़त्म करने में आंवला एक दबा के रूप में काम करता हैं इसके लिए 10 ग्राम बहेड़ा, 10 ग्राम लौह भस्म, 30 ग्राम आंवला चूर्ण (Amla churna) और 50 ग्राम आम की गुठली के चूर्ण लें कर, इन्हें किसी लोहे की कढ़ाई में रात भर भिगोकर रखें और सुबह नहाने से आधा घंटा पहले इसका लेप लगाए, कुछ ही दिनों में आपके बाल लम्बे, काले और घने हो जायेंगे।

दूसरा और एक तरीका हैं रीठा, शिकाकाई और आंवला को मिलकर इसका काढ़ा बना लें, इसे अपने बालो में लगायें, सूखने के बाद इसे ठन्डे पानी से धो लें। ऐसा लगातार कुछ दिन तक करने से बाल लंबे, मुलायम और होते हैं।

आमला चूर्ण के फायदे गले की खराश को ठीक करने के लिए (Benefits of Amla for Sore Throat in Hindi)

मौसम बदलने पर गले में खराश एक आम बात हैं। आमला पाउडर ऐसे में बहुत फायदेमंद होता है। आंवला, हल्दी, यवक्षार, अजमोदा और चित्रक को बराबर मात्रा में मिला लें और इसके साथ आमला चूर्ण 1 से 2 ग्राम सहद के साथ चाटें, गले की खराश इससे दूर हो जाएगी।

आंवला के फायदे कब्ज से राहत दिलाने में (Amla to Relieves Constipation in Hindi)

कब्ज से राहत दिलाने में अमला बहुत फायदेमंद (amla ke fayde) हो सकता हैं इसके लिए। 3 से 4 ग्राम त्रिफला चूर्ण को हल्का गर्म यानि गुनगुने पानी के साथ सेवन करें। इससे कब्ज की समस्या पूरी तरह से ख़त्म हो जायेगा।

आंवला के फायदे आंखों की बीमारी दूर करने में  (Benefits of Amla to Treat Eye Diseases in Hindi)

  • आंवले के रस के 1-2 बूंद आंखों में डालने से आंखों के रोग में राहत मिलती है।
  • आंवले के फल और इसके पत्ते का मिश्रण आँखों पर लगाने से आंख आने की परेशानी से निजात मिलती है।
  • आंवले को पेस्ट बनाकर किसी सूती के कपडे से पोटली बना लें और फिर आंखों पर लगाए। इससे पित्त दोष से होने बाले आंखों की जलन, खुजली दूर हो जाएगी।

आंवले का उपयोग कैंसर से बचने के लिए (Use of Amla to Prevent Cancer in Hindi)

कैंसर के सेल्स को रोकने में भी अमला काफी सहायक होता है, क्योंकि इसमें कैंसर रोधी पोषक तत्व और रसायन पाये जाते हैं। आंवला रसायन युक्त होने की बजह से रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है।

आंवला के फायदे धातु रोग में (Benefits of Amla in Spermatorrhoea in Hindi)

10 ग्राम आंवले के धूप में सुखा लें और इसका चूर्ण बना ले। इस चूर्ण (Amla churna) में दोगुनी मात्रा में मिश्री मिला लें। इसका सेवन 15 दिन तक लगातार करें। इससे शीघ्रपतन, स्वप्नदोष इत्यादि धातु सम्बन्धी रोगो से बहुत लाभ मिलेगा।

आंवले का उपयोग मस्तिष्क को स्वस्थ रखने मे (Amla Beneficial to Boost Memory in Hindi)

मस्तिष्क को स्वस्थ और तेज करने में अमला बहुत सहायक हैं। आंवला से मिलने वाले पोषक और रसायन गुण दिमाग को तेज करने में मदद करता हैं।

आंवला के फायदे दस्त लगने में (Amla to Fight Diarrhoea in Hindi)

आंवले के पत्तों 10-12 ग्राम को पीसकर सुबह-शाम छाछ के साथ सेवन करने से लाभ मिलता है।

आंवला का फ़ायदा त्वचा रोग में (Amla for Skin Disease in Hindi)

अमला तथा नीम का पत्ते को देशी घी के साथ सेवन करें। इससे खुजली, फोड़े से लाभ मिलता है।

अमला का फ़ायदा गठिया-दर्द में (Amla Benefits Arthritis in Hindi)

गठिया में जोड़ों का दर्द काफी पीड़ादायक होता हैं इसमें सबसे ज्यादा बड़े-बूढ़े लोग ग्रस्त होते हैं। सूखे अमला 20 ग्राम और 20 ग्राम गुड़ लें, इसे आधा लीटर पानी में उबाल लें। फिर इसे सुबह शाम छानकर पिएं। इससे गठिया के दर्द में रोगी को लाभ मिलेगा। पर याद रहे इस दौरान नमक का प्रयोग बिलकुल न करे।

आंवले के फायदे हृदय को स्वस्थ रखने में  (Amla Beneficial for Healthy Heart in Hindi)

अमला न सिर्फ मस्तिष्क को तेज करता हैं बल्कि हृदय को स्वस्थ रखने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, अमला का सेबन शरीर में ख़राब कोलेस्ट्रॉल को कम करता हैं साथ ही इसमें मौजूद विटामिन-सी रक्त धमनी को संकुचित होने से रोकता हैं जिससे शरीर में खून की बहाब सामान्य रहता है।

आंवला के नुकसान- Side Effects Of Amla

  • आंवला सेवन से त्वचा पर निखार तो जरूर आता हैं आता वहीं इसका ज्यादा सेबन करने पर त्वचा धीरे-धीरे अपनी नमी खोने लगती है।
  • अगर आप को सर्दी-जुखाम है तो आंवला का सेवन बिलकुल ना करें, इससे सर्दी-जुखाम और बढ़ा सकता है, और गला ख़राब कर सकता है।
  • आंवला का अधिक सेवन मधुमेह रोगी के लिए हानिकारक हो सकता है। मधुमेह के रोगी चिकित्सक से पूछ कर ही आंवले का सेवन करना चाहिए।

हेल्थ सम्बन्धी जानकारी के लिए हमारे  Telegram Whatsapp  Facebook  Twitter  Instagram  Pinterest  Quora  Reddit  Tumbllr जरूर ज्वाइन करे।

नोट:-healthayurindia.com के इस आर्टिकल केवल सूचनात्मक उद्देश्यों के लिए लिखा गया है। कृपया इसके उपयोग से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular