नोनी के फायदे

 नोनी आलू के आकार का सफेद पीले और हरे रंग का एक फल होता है। खास बात ये है कि ये फल किसी एक बीमारी नहीं बल्कि कई सारे गंभीर बीमारियों से लड़ने में मदत करता हैं।इसके औषधिय गुण कई तरह की समस्या जैसे कैंसर , डायबिटीज, अस्थमा, अर्थराइटिस, दिल की बीमारी के साथ ही और पुरुषों में होने वाली समस्याओं पर सटिक काम करते हैं। साथ ही इसके जूस बनाके पिने से इसके और भी फायदे मिलता हैं । नोनी जूस में एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल, एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी हिस्टामिन गुण पाया जाता है जो इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक होता है। इसे नियमित पीने से शरीर के अंदर कई बीमारियों से लड़ने की ताकत मिलती है।

तो आइये जानते हैं नोनी फल से जुड़े स्वस्थ लाभ

कैंसर जैसे बीमारिको रोकनेमें हैं मददगार-

नोनी के रस में कई ऐसे गुण और पोषक तत्व होते हैं जो काफी बीमारियों से हमारी रक्षा कर सकते हैं। नोनी जूस में एंटीकैंसर और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं। ये गुण कैंसर के सेल्स को बरने से रोकते हैं जिससे शरीर में कैंसर नहीं फैलता। साथ ही औषधीय गुणों से भरपूर नोनी जूस धूम्रपान से होने वाले कैंसर के खतरे को भी दूर कर सकता है। इतना ही नहीं यह एंटीट्यूमर गुण से भी संपन्न है जो कैंसर को बढ़ाने वाले ट्यूमर को बढ़ने से पहले ही रोक देता है और शरीर को ट्यूमर व कैंसर से बचाने में कारगर हो सकता है ।

 

इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाये-

नोनी फल में कई तरह के विटामिन और मिनरल पाये जाते हैं जो इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करते हैं।

लिवर को रखे स्ट्रांग-

नोनी जूस में हैप्टो सुरक्षात्मक का गुण होता है। यह हमारे लिवर को लेड जैसे खतरनाक केमिक्ल से बचाकर रखता है जो हमारे लिवर को हानि पहुंचा सकता है।

मधुमेह के इलाज में-

मधुमेह के मरीजों के लिएरोज दो गिलास नोनी के रस का सेवन फायदेमंद हो सकता है। यह एंटीडायबिटीज गुणों से भरपूर होता है, जो टाइप 2 मधुमेह को रोकने में कारगर हाे सकता है। इसमें मौजूद ये गुण खून में मौजूद शुगर और ग्लूकोज की मात्रा को कम करने में मददगार होते हैं।

जोड़ों का दर्द दूर करें-

जोड़ो के दर्द परेशान लोगों को रोजाना के काम करने में भी मुश्किलें आने लगती है लेकिन नोनी फल जोड़ों के दर्द, अकड़न, जोड़ों की गतिहीनता की समस्याओ ठीक करने में मदत करता हैं।

दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता हैं नोनी –



नोनी जूस का रोज़ाना सेवन करने से यह हमारे दिल को स्वस्थ रखता है। इसमें एंटी इंफ्लामेट्री होने के कारण यह हमारे शरीर में खून के बहाव को अच्छा रखता है साथ ही बल्ड प्रेशर का लेवल भी बना रहता है।

एंटीऑक्सीडेंट से है भरपूर-

नोनी जूस में काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जिसे रोजाना चेहरे पर लगाने से यह त्वचा को अच्छी तरह मॉश्चराइज करता है और जवान बनाये रखने में मदद करता है।

साथ ही नोनी का जूस ब फल का सेबन करना और भी काफी सारि बीमारियों से लड़नेमे मदत करता हैं-

ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के साथ ये इंसुलीन को भी बूस्ट करता है।

गंजेपन और बालों से सम्बंधित समस्याओं की देखभाल करता है।

महिलाओं के अनियमित पीरियड्स और पीरियड्स से जुड़ी समस्याओं में यह दवा की तरह काम करता है।

सांस से जुड़ी बीमारी है या अस्थमा तो नोनी का जूस जरूर पीएं।

कब्ज, बदहजमी, दस्त आदि से पीड़ित लोगों को नोनी के सेवन से रोगों की मुक्ति मिलती है।

कील-मुंहासे, एग्जिमा, सोरायासिस और दाद-खाज में भी नोनी का जूस बहुत फायदेमंद होता है।

उच्च रक्तचाप और माइग्रेन से पीड़ित लोगों के लिए लाभदायक है।

पेट के दर्द, गैस, एसिडीटी, अल्सर आदि में नोनी का जूस रोज पीएं।

 इसके साथ ही नोनी जूस के कई सारे नुकसान भी हैं इसे भी जरूर जाने –

हर चीज़ का अधिक मात्रा में सेवन करने से उसका नुकसान भी होता है। ऐसे ही नोनी जूस के ज्यादा सेबन करनेसे नुकसान होते हैं। नोनी जूस का अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर में किड़नी पर बुरा असर पड़ता है।

नोनी जूस में पोटैशियम पाया जाता है। अगर पोटैशियम का सेवन अधिक मात्रा में होता है तो यह हमारे शरीर से पानी की अधिक मात्रा को बाहर निकालता है जिससे हमारा ब्लड प्रेशर कम हो सकता है। इसके अलावा पोटैशियम का अधिक मात्रा में सेवन करने से किड़नी में पत्थरी की बीमारी भी हो सकती है।

नोट- नोनी फल का सेबन फायदेमंद तो हैं ही साथ में इसके नुकसान भी हैं कृपया इसका सेबन से पहले डॉक्टर की राय जरूर ले ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *